Khabarhaq

जिले में डेल्टा रैकिंग में सुधार के लिए भारत सरकार से दिए जाएगी 10 करोड़ रुपए की राशि : जिले में कई विकास कार्यो को दिया जाएगा अंजाम :

Advertisement

जिले में डेल्टा रैकिंग में सुधार के लिए भारत सरकार से दिए जाएगी 10 करोड़ रुपए की राशि :

जिले में कई विकास कार्यो को दिया जाएगा अंजाम :

 

ख़बर हक़

नूंह 09 मार्च :

नीति आयोग द्वारा देशभर के 112 आकांक्षी जिलों की सूची बनाई गई थी, जिसमें लगभग 49 पैरामीटर तय किए गए थे। इनमें ड्रॉपआउट, संस्थागत डिलीवरी, सिंचाई, कृषि, सेहत सहित अन्य विभागों के बहुत से काम थे। इन सभी में सुधार करने की जरूरत थी। मेवात जिला लगातार अपनी रैंकिंग में सुधार कर रहा है। इसी कड़ी में आज भारत के राजदूत मोनरोविया से आए प्रदीप कुमार यादव व डिप्टी चीफ ऑफ मिशन एम्बेसी ऑफ इंडिया सियोल से सुरेन्द्र भगत की अध्यक्षता में आकांक्षी जिला में हुए सुधार को लेकर एक बैठक आयोजित की गई। बैठक में उपायुक्त अजय कुमार ने कहा कि जिले के संबंधित विभागों के अधिकारी व कर्मचारी जिले को पिछड़े जिलों की सूची से बाहर निकालने में भरपूर मेहनत कर रहे हैं। आज जिला के नागरिकों की जागरूकता व प्रशासनिक अधिकारियों की मेहनत का ही नतीजा है कि नूंह जिला पूरे देश में आकांक्षी जिलों की डेल्टा रैंकिंग में नंबर एक स्थान पर आया है।

डिप्टी चीफ ऑफ मिशन एम्बेसी ऑफ इंडिया सियोल से सुरेन्द्र भगत ने स्कूल में ड्राप आउट बच्चों के बारे में जानकारी प्राप्त की ओर ड्राप आउट बच्चों को कैसे वापिस स्कूल में लाया जा जा सके इस पर जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बातचीत की गई। उन्होंने कृषि विभाग द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, माईक्रो इरिगेशन से आए हुए सभी संबंधित अधिकारियों से जानकारी प्राप्त की। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से खसरा रुबेला टीकाकरण के बारे में जानकारी प्राप्त की और महिला बाल विकास विभाग की सभी सीडीपीओ व सुपरवाईजरों को टीकाकरण में पूर्ण सहयोग के निर्देश दिए है। दक्षिण हरियाणा बिजली निगम नूंह के कार्यकारी अभियंता शिवराज सिंह ने बताया कि नंूह जिले के 19 फीडर के 150 गांव में जल्द ही 24 घंटे बिजली आपूर्ति की जाने की योजना हैं। दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम द्वारा इस योजना के तहत अब तक 13.01 करोड़ों रुपए खर्च किए जा चुके हैं। बाकि 24 फीडर के 178 गांव में 18.93 करोड़ रूपये के कार्य प्रगति पर है। उपायुक्त अजय कुमार ने कहा कि दिसंबर की जो डेल्टा रैंकिंग आई है, उसमें पहली बार नूंह जिला पहले नंबर पर आया है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी तरक्की की है। बेसिक इंफ्रास्ट्रक्चर में काफी तरक्की की है, इसके अलावा शिक्षा के क्षेत्र में जो शिक्षा सहायक लगाए गए हैं, उसमें इंप्रूवमेंट दर्ज की गई है। इसी के आधार पर पहले नंबर पर आए हैं। पहले नंबर पर आने पर भारत सरकार द्वारा 10 करोड़ रुपए की राशि दी जाएगी, जिससे जिले में कई विकास कार्यो को अंजाम दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अब हम कुछ नए प्रोजेक्ट तैयार कर सकते हैं, जो विकास को आगे ले जा सकते हैं। देशभर के पिछड़े जिलों की सूची में हरियाणा का नूंह जिला लगातार तरक्की कर रहा है और इसी के बल पर वह ओवरऑल परफॉर्मेंस में नंबर वन पर पहुंच चुका है। उन्होंने पूरे जिले की परफॉर्मेंस का जायजा लिया। नूंह जिले के टांई गांव में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया। मिशन रूबेला टीकाकरण का निरीक्षण किया। शिक्षा सहायक तथा स्कूली छात्रों से भी दोनों अधिकारियों ने बातचीत की। उपायुक्त ने कहा कि भारत सरकार की फ्लैगशिप योजना है। उपायुक्त ने कहा कि नई परियोजना में हेल्थ न्यूट्रिशन आंगनवाड़ी सेंटर निर्माण के अलावा क्षेत्र में स्किल डवलपमेंट नए कोर्स शुरू किए जाए। इस पर जिला प्रशासन का फोकस रहेगा ताकि यह जिला पूरी तरह से पिछड़े जिलों की सूची से बाहर आ सके।

इस अवसर पर सीईओ प्रदीप अहलावत, नगराधीश सिद्वार्थ दहिया, एसडीएम नूंह अश्वनी कुमार, सिविल सर्जन डा. सर्बजीत सिंह, टीकाकरण के नोडल अधिकारी डा. नवीन यादव, जिला बागवानी अधिकारी डा. दीन मोहम्मद, एलएफएन की जिला संयोजक कुसुम मलिक, डा. विशाल सिंगला, डब्ल्यूएचओ से डा. संजीव तंवर सहित अन्य संबंधित विभाग के अधिकारी भी मौजूद रहे।

फोटो कैप्शन : 1 व 2 भारत के राजदूत मोनरोविया से आए प्रदीप कुमार यादव व डिप्टी चीफ ऑफ मिशन एम्बेसी ऑफ इंडिया सियोल से सुरेन्द्र भगत आकांक्षी जिला में हुए सुधारों को लेकर जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक की अध्यक्षता करते हुए।

Khabarhaq
Author: Khabarhaq

0 Comments

No Comment.

Advertisement

हिरयाणा न्यूज़

महाराष्ट्र न्यूज़

हमारा FB पेज लाइक करे

यह भी पढ़े

भारत की सबसे उम्र दराज मेवात की 99 वर्षीय असगरी और 98 वर्षीय चंद्री हज के लिए मदीना रवाना। • बुजुर्ग हज्जन को पूरे सम्मान के साथ हज कमेटी इंडिया ने विदा किया गयासा • मान्य किराए के बावजूद बुजुर्ग हज्जन को विमान मे बिजनेस क्लास की प्रथम सीट दी गई

Please try to copy from other website