Khabarhaq

इसलामी मदरसा में 24 फुट चौड़ा बिजली छत का पंखा

Advertisement

इसलामी मदरसा में 24 फुट चौड़ा बिजली छत का पंखा

 

पंखा को देखने वालों का मदरसा में लगता है तांता

 

30 साधारण पंखों की जगह अकेला करता है काम

 

फोटो मेवात के मीलखेड़ला मरदसा की मजिस्द के बरामदें में लगा 24 फुट चौड़ा बिजला का पंखा

 

यूनुस अलवी मेवात

 

मीलखेड़ला इसलामी मदरसा की मस्जिद में लगा 24 फुट चौड़ा बिजली छत का पंखा लोगों के लिए तमाषा बना हुआ है। इस अजीब पंखा को देखने वालों का मदरसा में सुबह से षाम तक तांता लगा रहता है। इतना ही नहीं जहां यह पंखा 30 साधारण पंखों की जगह अकेला काम करता है वहीं बिजली की खपत कम होती है और षोर भी नहीं करता है।

मेवात के मीलखेड़ला इसलामी मदरसा के मुफ़्ती मोहम्मद साबिर ने बताया कि पंखे में पांच पंखड़ियां हैं। एक पंखड़ी की लंबाई उन्होने बताया कि मदरसा में बनी मस्जिद के बरामदे में पहले करीब 30 से अधिक पंखे लगे हुए थे। अब सब पंखों को हटा कर एक ही बड़ा पंखा लगाया गया है।

उनका कहना है कि बड़ा पंखा लगने से काफी फायदा हुआ है। 40 गुणा 50 फीट चौड़े मस्जिद के बरामदें में अकेले पंखें से हवा सभी नमाजियों पर पहुंच जाती है। दूसरे फंखे अकसर बार बार ख़राब हो जाते है और आवाज भी बहुत ज्यादा करते थे। जो अब पंखा लगाया है इसकी बढ़िया हवा है बिना षोर किए चारों ओर सबको बराबर हवा देता है।

उन्होने बताया कि इन पंखों को मदरसे के लिए उन्होने गुजरात से दो पंखा ऑडर पर मंगवाए है। दो पंखा की कीमत 3 लाख 50 हज़ार रुपये है। उनका कहना है कि साडे़ तीन लाख रूपये में कंपनी के कर्मचारी गुजरात से मेवात आकर दोनों पंखों को मुकम्मल तौर पर मस्जिद में सेट करके गये है।

 

उन्होने बताया की पूरे मेवात इलाके में पहली बार लोगों ने ऐसे पंखे देखें है। इन पंखों को देखने के लिए दर्जन भर लोग हर रोज आ रहे है। कई लोगों ने उनको पसंद कर अपने घरों चौपालों पर लगाने के लिए ऑर्डर

भी दिया है।

Khabarhaq
Author: Khabarhaq

0 Comments

No Comment.

Advertisement

हिरयाणा न्यूज़

महाराष्ट्र न्यूज़

हमारा FB पेज लाइक करे

यह भी पढ़े

मेवात को करीब 800 टीजीटी और पीजीटी अध्यापक मिलने के बाद भी भारी टोटा  • नूंह जिला केवल डीईओ और एक बीईओ के सहारे चल रहा है। • मेवात शिक्षा केडर को मिले करीब 325 पीजीटी अध्यापक  • जल्द ही जेबीटी अध्यापक मिल सकते हैं। • जिले में अभी भी करीब 4900 अध्यापकों की भारी कमी है।

मेवात के पुलिस कप्तान विजय प्रताप बोले :- जनता के सहयोग से मेवात को अपराध व नशा मुक्त बनाया जाएगा • अपराधी, अपराध छोड़ दें या फिर जिला, किसी को बख्शा नहीं जाएगा • एसपी का पदभार संभालने के बाद पहली बार पत्रकारों से रूबरू हुए।

Please try to copy from other website