Khabarhaq

शहीद लेफ्टिनेंट किरण शेखावत राजकीय महिला महाविद्यालय में भाषण प्रतियोगिता का आयोजन

Advertisement

शहीद लेफ्टिनेंट किरण शेखावत राजकीय महिला महाविद्यालय में भाषण प्रतियोगिता का आयोजन

 

अंतराम खटाना (ख़बर हक)

 

बुधवार को नूंह के सालाहेड़ी स्थित शहीद लेफ्टिनेंट किरण शेखावत राजकीय महिला महाविद्यालय में भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में महाविद्यालय की छात्राओं ने बढ़ चढक़र भाग लिया। यह कार्यक्रम विकसित भारत संकल्प यात्रा के राष्ट्रव्यापी जागरूकता अभियान के तहत आयोजित किया गया। प्रतियोगिता का विषय भारत के बढ़ते कदम रखा गया। इस अवसर पर महाविद्यालय की छात्राओं ने विश्व में भारत के स्थान और उसके वर्तमान आर्थिक परिदृश्य को लेकर भाषण प्रतियोगिता में अपने तथ्यात्मक विचार प्रस्तुत किए।

इस अवसर पर भारत सरकार की सरकारी योजना और उनके लिए मिलने वाले प्रोत्साहन से छात्राओं ने अवगत कराया। सकल घरेलू उत्पाद को लेकर बीकॉम द्वितीय वर्ष की छात्रा भावना ने अपने विचार रखे। उन्होंने बताया कि आज भारत प्रत्येक क्षेत्र में अपनी दूरदर्शिता के साथ योजनाबद्ध तरीके से कार्य कर रहा है। इस मौके पर हिंदी के सहायक प्रोफेसर तेजपाल ने कहा कि भारत गांव एवं कृषि प्रधान देश है।

सकल घरेलू उत्पाद का मूल आधार कृषि होती है। अत: हमें भूमि की उर्वरता बनाये रखने के लिए फसलों में फेरबदल करते रहना चाहिए। जिससे न केवल हमें उचित पोषण मिलेगा बल्कि मंहगाई कम करने का विकल्प भी मिल जाएगा,रोजगार सृजित होंगे। आय में वृद्धि होगी। इस प्रकार के कार्यक्रम की सार्थकता इस बात पर निर्भर है जब हम अपने आसपास के लाभार्थियों तक सभी योजनाओं का लाभ पहुंचाने और उन्हें जागरूक करने का प्रयास करते रहेंगे।

कु प्रियंका बी ए तृतीय वर्ष की छात्रा ने बताया कि सरकार द्वारा समय समय पर नागरिको के हितों को ध्यान में रखते हुए सरकारी योजनाओं का लाभ वास्तविक लाभार्थियों को इसलिए नही मिल पाता कि लोग जागरूक नही हैं। ऐसे में अवसरवादी लोग उनका लाभ ले जाते हैं। इस समस्या के निवारण के लिए सरकार ने इन सभी योजनाओं को ऑनलाइन पंजीकरण कराने के आदेश दिए हुए हैं। व्यक्ति घर बैठे बैठे अपने आवेदन की प्रगति और प्रतिक्रिया को देख सकता है। इससे भ्रष्टाचार काम हो गया है। इस भाषण प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर कु प्रियंका, द्वितीय स्थान पर कु साबरा बीए तृतीय वर्ष तथा कु भावना बीकॉम तृतीय स्थान पर रही। इस अवसर पर अशोक कुमार एसोसिएट प्रोफेसर वाणिज्य तथा प्रतियोगिता के निर्णायक मंडल के रूप में डॉ रितेश कुमार, मनिंदर सिंह सहायक प्रोफेसर वाणिज्य तथा डॉ अनिल कुमार, सहायक प्रोफेसर राजनीति विज्ञान का सराहनीय उपस्थित रही। निश्चित ही यह गर्व की बात है

कि हमारा भारत आज विकसित देशों की श्रेणी में शीघ्र ही अपना नाम दर्ज करा लेगा। इस प्रतियोगिता के प्रतिभागियों को आगामी विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान जिला उपायुक्त द्वारा सम्मानित एवं प्रोत्साहित किया जाएगा।

Khabarhaq
Author: Khabarhaq

0 Comments

No Comment.

Advertisement

हिरयाणा न्यूज़

महाराष्ट्र न्यूज़

हमारा FB पेज लाइक करे

यह भी पढ़े

Please try to copy from other website