Khabarhaq

प्रधानमंत्री को भेजा एक्सप्रेसवे पर मरोडा में कट देने का ज्ञापन

Advertisement

 

 

प्रधानमंत्री को भेजा एक्सप्रेसवे पर मरोडा में कट देने का ज्ञापन

 

केंद्र और राज्य सरकार प्रतिनिधि भेज कर कराए सर्वे 

 

मंडकोला रोड, उजीना रोड, फिरोजपुर रोड पर मिले कट

 

तसलीम अलवी

नगीना: 

नूंह शनिवार को नगीना, पिनगवां, पुन्हाना, होडल और तिजारा के विकास में मील का पत्थर माने जा रहे मरोड़ा कट को लेकर सामाजिक संगठनों ने प्रधानमंत्री को चिट्ठी भेजी है। उनका कहना है कि पुन्हाना और होडल के साथ लगता चौरासी कोस ब्रिज परिक्रमा, भगवान श्री कृष्ण का वृंदावन मंदिर तथा दूसरी तरफ नगीना से लगता तिजारा का भगवान श्री दिगंबर जैन मंदिर आदि धार्मिक स्थल दिल्ली मुंबई वडोदरा एक्सप्रेस से नहीं जुड़ पाए हैं। इसके लिए केंद्र और राज्य सरकार को गंभीरता से प्रयास करने पड़ेंगे। संगठन के प्रतिनिधि अली जान एडवोकेट, वरिष्ठ अधिवक्ता सुबोध जैन, चौधरी इलियास खान चौधरी जब्बार खान चौधरी सोहराब सिरौली का कहना है कि मेवात जिले की सीमा से लगते तीन कट दिए हैं जिनका इलाके के लिए कोई खास फायदा नहीं है। पहला कट फिरोजपुर पहाड़ी राजस्थान सीमा, दूसरा कट उजीना में प्राइवेट कंपनी के लिए और तीसरा कट पलवल मंडकोला सीमा पर दिया गया है। मेवात इलाके का संगठन मेवात आरटीआई मंच एवं मौजी फाऊंडेशन 2019 से लगातार मांग उठता आ रहा हैं जिसके परिणाम स्वरूप उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने नगीना रैली में घोषणा की थी। गत माह नगीना में केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने मरोड़ा स्थित एक्सप्रेसवे पर कट देने की वकालत की थी। बता दें कि एक्सप्रेसवे पर कट नहीं होने के कारण पांच ब्लॉक के 15000 से अधिक ट्रक ड्राइवर परेशान है। काफी संख्या में मरोडा पुल पर गाड़ियां रोक कर अपने परिवारों से मिलते हैं। जननायक जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष हाजी जान मोहम्मद ने बताया कि उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के साथ बैठक होनी है उसमें मरोड़ा कट का मुद्दा रखा जाएगा। उन्होंने ही 2020 में इसकी घोषणा की थी।

कैपशनः एक्सप्रेसवे के मरोडा पुल पर खड़ी

गाड़ियां

Khabarhaq
Author: Khabarhaq

0 Comments

No Comment.

Advertisement

हिरयाणा न्यूज़

महाराष्ट्र न्यूज़

हमारा FB पेज लाइक करे

यह भी पढ़े

Please try to copy from other website