Khabarhaq

• मेवात के शहजाद खान को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने असाधारण आसूचना कुशलता पदक-2023 से सम्मानित किया

Advertisement

• मेवात के शहजाद खान को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने असाधारण आसूचना कुशलता पदक-2023 से सम्मानित किया
• सब इंस्पेक्टर शहजाद खान को ख़ुफ़िया सेवा में बेहतर कार्य करने पर पदक दिया गया
• शहजाद खान मेवात के इन्दाना गांव के रहने वाले हैं 
फोटो शहजाद खान को केंद्रीय गृह मंत्रालय  के असाधारण आसूचना कुशलता पदक-2023 से दिल्ली के उप राज्यपाल वी के सक्सेना सम्मानित करते हुए, साथ में दिल्ली पुलिस कमिश्नर संजय अरोड़ा मोजूद रहे।
यूनुस अलवी, 
मेवात/हरियाणा
    खुफिया विभाग में बेहतर कार्य करने पर नूंह जिला के खंड पुनहाना के इन्दाना गांव निवासी सब इंस्पेक्टर शहजाद खान को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने असाधारण आसूचना कुशलता पदक-2023 से सम्मानित किया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय की और से दिल्ली के उप राज्य पाल वीके सक्सेना ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर संजय अरोड़ा की मोजूदगी में शहजाद अरोड़ा को दिया। शहजाद खान को अवार्ड मिलने पर मेवात में खुशी की लहर है। वही शहजाद खान ने अवार्ड मिलने पर अपने उच्च अधिकारियों को केंद्रीय गृह मंत्रालय का धन्यवाद किया है।
आपको बता दे कि नूंह जिला के थाना बिछोर के गांव इन्दाना निवासी शहजाद खान  पिछले करीब दस साल से स्पेशल सेल के कार्यरत हैं। वह एम एन दिल्ली पुलिस में एक कांस्टेबल के रूप में 2010 शामिल हुआ था। 2016 में उनको हेड कांस्टेबल बनाया गया। वर्ष 2019 में हवलदार से असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर (एएसआई) प्रमोट किया गया तथा 2023 में शहजाद खान को सब इंस्पेक्टर प्रमोट हुए।
  शहजाद खान को गृह मंत्रालय की ओर से वर्ष 2022 स्पेशल ऑपरेशन मेडल। वीरता के लिए 2023 में राष्ट्रपति पदक तथा 2023 केंद्रीय गृह मंत्रालय की और से महत्व पूर्ण गुप्त जानकारी जुटाने पर असाधारण आसूचना कुशलता पदक से नवाजा गया है। शहजाद खान के पिता मुंशी खान 2010 में हरियाणा पुलिस से सब इंस्पेक्टर के पद से  सेवानिवृत्त हुए हैं।
Khabarhaq
Author: Khabarhaq

0 Comments

No Comment.

Advertisement

हिरयाणा न्यूज़

महाराष्ट्र न्यूज़

हमारा FB पेज लाइक करे

यह भी पढ़े

मेवात को करीब 800 टीजीटी और पीजीटी अध्यापक मिलने के बाद भी भारी टोटा  • नूंह जिला केवल डीईओ और एक बीईओ के सहारे चल रहा है। • मेवात शिक्षा केडर को मिले करीब 325 पीजीटी अध्यापक  • जल्द ही जेबीटी अध्यापक मिल सकते हैं। • जिले में अभी भी करीब 4900 अध्यापकों की भारी कमी है।

मेवात के पुलिस कप्तान विजय प्रताप बोले :- जनता के सहयोग से मेवात को अपराध व नशा मुक्त बनाया जाएगा • अपराधी, अपराध छोड़ दें या फिर जिला, किसी को बख्शा नहीं जाएगा • एसपी का पदभार संभालने के बाद पहली बार पत्रकारों से रूबरू हुए।

Please try to copy from other website