Khabarhaq

अननुमोदित (Unapproved) अनाज मंडी फिरोजपुर झिरका में प्लाट बेच रही है मार्किट कमेटी  • पहले से प्लाट खरीद चुके कई लोगों की नहीं हो रही है रजिस्ट्रियां

Advertisement

अननुमोदित (Unapproved) अनाज मंडी फिरोजपुर झिरका में प्लाट बेच रही है मार्किट कमेटी 

• पहले से प्लाट खरीद चुके कई लोगों की नहीं हो रही है रजिस्ट्रियां

• एसडीएम और नगर पालिका चेयरमैन ने भी माना कि अनाज मंडी का करीब आधा हिस्सा अननुमोदित क्षेत्र में आता है।

 

फोटो नक्शा जिसमे दिखाया जा रहा है कि करीब 70 फीसदी अनाज मंडी का क्षेत्र अननुमोदित है।

 

फोटो शिकायतकर्ता की और से डीसी को दी शिकायत

 

 

यूनुस अलवी,

मेवात/हरियाणा

मार्केट कमेटी विभाग की ओर से फिरोजपुर झिरका अनाज मंडी में 10 जुलाई को प्लांट और बूथों की नीलामी छोड़ने जा रही है। जिस पर लोगों ने एतराज जताना शुरू कर दिया है और प्लाटों की बिक्री पर रोक लगाने की जिला उपयुक्त नूंह से मांग की है। शिकायतकर्ताओं का आरोप है कि अनाज मंडी की करीब 70 फ़ीसदी प्लांट फिरोजपुर झिरका नगर पालिका के वैध एरिया में नहीं आती है, जिस कारण लोगों को प्लाट लेने के बाद उनकी रजिस्ट्रियां करने में खासी परेशानी आती है। यहां तक कि फिरोजपुर झिरका अनाज मंडी में करीब 20 साल पहले खरीदी गई प्लाट की तहसीलदार फिरोजपुर झिरका अन अपूरुड बताकर रजिस्ट्री नहीं कर रहे हैं। इसलिए जब तक अनाज मंडी के पूरी जमीन को फिरोजपुर झिरका की मंजूर शुदा एरिया घोषित न कर दिया जाए तब तक प्लांट और बूथों की बिक्री नहीं होनी चाहिए।

पुनहाना निवासी शौकीन अहमद ने बताया कि उसने एक दुकान न. 46 अनाज मंडी फिरोजपुर झिरका में पूर्व जिला प्रमुख शिक्षा यादव के परमजीत पुत्र सुरजीत सिंह से खरीदी है। जिसकी उसने जुलाई 2021 में बकाया राशि जमा कर तथा दुकान बनवाकर कंप्लीशन सर्टिफिकेट ले लिया था। इसके बाद उसी समय से वह मार्केट कमेटी फिरोजपुर झिरका से कन्विंस डीड (रजिस्ट्री) परमजीत के नाम कराने का आग्रह कर रहा हूं। जिसमें मुझे पता लगा की फिरोजपुर झिरका अनाज मंडी का लगभग 75 फीसदी भाग नगर पालिका फिरोजपुर झिरका ने अवैध घोषित किया हुआ है जिसकी “प्रॉपर्टी आईडी” नहीं बन सकती। एक विभाग की सरकारी जमीन इनको दूसरे सरकारी विभाग द्वारा अवैध घोषित करना बहुत बड़ा “मजाक व अन्याय” है। इस अवैध घोषित क्षेत्र से समय-समय पर नगर पालिका फिरोजपुर झिरका, मार्केट कमेटी तथा तहसील द्वारा सांठ-गांठ कर रजिस्ट्री की गई हैं। जिनमें से दुकान नंबर 5 (पांच) तथा दुकान नंबर 36 (छत्तीस) मेरे संज्ञान में है। यह राज्य सरकार द्वारा घोषित जीरो टॉलरेंस नीति का सरासर उल्लंघन है। उन्होंने कहा हरियाणा सरकार को बदनाम करने के लिए विभागों द्वारा लोगों को परेशान किया जा रहा है। जिसकी वह समय-समय पर मार्केट कमेटी, नगर पालिका, एसडीएम फिरोजपुर झिरका व उपायुक्त जिला नूंह आदि को दरखास्त के माध्यम से अपनी समस्या का समाधान करने प्रार्थना कर चुका हूं परंतु उसकी समस्या आज भी जस की तस बनी हुई है। वह परेशान होकर इसको कष्ट निवारण समिति व सीएम विंडो में शिकायत करने जा रहा है। अगर जल्द ही मेरी कन्वेन्स डीड ना हुई तो वह मुख्य मंत्री हरियाणा के समक्ष भी उपस्थित होकर विभागों द्वारा लोगों को परेशान किए जाने की शिकायत करूंगा। उन्होंने बताया कि मार्किट कमेटी ने इसी अवैध अनाज मंडी में कुछ प्लाट और बूथों की नीलामी में 10 जुलाई को छोड़ा जा रहा है।

 

क्या कहते हैं नगर पालिका फिरोजपुर झिरका के अध्यक्ष 

 

फिरोजपुर झिरका नगर पालिका के अध्यक्ष मनीष जैन का कहना है कि यह बात सही है कि फिरोजपुर झिरका अनाज मंडी के करीब 50 से 60 फीसदी जमीन अन अप्रूव्ड क्षेत्र में आती है करीब 40 फीस की क्षेत्र अपूर्ड है। मंजूरी के लिए इसका प्रस्ताव कर सरकार को भेजा गया है जिससे अनाज मंडी की पूरी जमीन को फिरोजपुर झिरका नगर पालिका के वैध क्षेत्र ने घोषित किया जा सके।

 

क्या कहती हैं एसडीएम

 

फिरोजपुर झिरका की एसडीएम चिनार चहल का कहना है कि यह मामला उनके संज्ञान में आया है और नगर पालिका फिरोजपुर झिरका की ओर से प्रस्ताव पास कर सरकार को भेजा जा चुका है उनका कहना है कि जल्दी ही इसका सर्वे कराकर जो अनाज मंडी फिरोजपुर झिरका की अवैध जमीन दर्शीई गई है उसका सर्वे कराकर फिरोजपुर झिरका नगर पालिका के वैध क्षेत्र की जमीन में शामिल कर दिया जाएगा। इसलिए फिरोजपुर झिरका अनाज मंडी में प्लाट खरीदने वाले लोगों को परेशान होने की जरूरत नहीं है जल्दी ही सभी लोगों के बूथों और प्लाटों की रजिस्ट्रियां हो सकेंगी।

Khabarhaq
Author: Khabarhaq

0 Comments

No Comment.

Advertisement

हिरयाणा न्यूज़

महाराष्ट्र न्यूज़

हमारा FB पेज लाइक करे

यह भी पढ़े

मेवात को करीब 800 टीजीटी और पीजीटी अध्यापक मिलने के बाद भी भारी टोटा  • नूंह जिला केवल डीईओ और एक बीईओ के सहारे चल रहा है। • मेवात शिक्षा केडर को मिले करीब 325 पीजीटी अध्यापक  • जल्द ही जेबीटी अध्यापक मिल सकते हैं। • जिले में अभी भी करीब 4900 अध्यापकों की भारी कमी है।

मेवात के पुलिस कप्तान विजय प्रताप बोले :- जनता के सहयोग से मेवात को अपराध व नशा मुक्त बनाया जाएगा • अपराधी, अपराध छोड़ दें या फिर जिला, किसी को बख्शा नहीं जाएगा • एसपी का पदभार संभालने के बाद पहली बार पत्रकारों से रूबरू हुए।

Please try to copy from other website